Published on 2020-02-04
img

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के ग्यारह विद्यार्थियों का दल बाल्टिक देश लिथुआनिया से स्वदेश लौट आया। ये विद्यार्थी वहाँ व्याटूटस मैग्नस विश्वविद्यालय एवं विल्नूस विवि के साथ हुए शैक्षणिक अनुबंध के अंतर्गत भारतीय संस्कृति व योग के प्रचार प्रसार तथा लिथुआनियन संस्कृति के अध्ययन हेतु 26 अगस्त को लिथुआनिया गये थे। ये दोनों विश्वविद्यालय अपने स्टाफ एवं विद्यार्थियों को ऊजार्वान बनाये रखने के लिए जाने जाते है। उन्होंने बड़े उत्साह और लगन के साथ देसंविवि की टीम से योगासन, प्राणायाम, स्वास्थ्य एवं विचारों की उत्कृष्टता, व्यक्तित्व परिष्कार सम्बन्धी सैद्धांतिक व प्रायोगिक प्रशिक्षण दिया। उन्होंने यज्ञीय परम्परा को सीखा और सराहा। देसंविवि लौटने पर कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. साहब, श्रद्धेया जीजी, प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय जी एवं वरिष्ठ जनों को विद्यार्थियों ने अपने यात्रा वृत्तांत एवं उपलब्धियों से अवगत कराया, उनसे खूब- खूब आशीर्वाद पाए।


Write Your Comments Here:


img

प्रधानमंत्री श्री मोदीजी ने वीडियो क्रांफ्रेसिंग से डॉ. पण्ड्या जी से की बातगायत्री परिवार प्रमुख ने हर संभव सहयोग करने का दिया आश्वासनहरिद्वार ३० मार्च।प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज दोपहर में वीडियो क्रांफ्रेसिंग के माध्यम से गायत्री परिवार प्रमुख.....

img

कठोर तप नहीं, छोटे- से प्रयास से ही बदल सकता है जीवन

बलिया। उत्तर प्रदेश 18 फरवरी को गायत्री शक्तिपीठ महावीर घाट पर आयोजित कार्यकर्त्ता सम्मेलन आयोजित हुआ। मुख्य वक्ता शान्तिकुञ्ज के वरिष्ठ.....