Published on 2020-02-15
img

देवभूमि उत्तराखण्ड में शराब एक अभिशाप है, जिसने समाज, संस्कृति और प्रदेश की समृद्धि को गहरा नुकसान पहुँचाया है। गढ़वाल में एक कहावत है- ‘‘सूर्य अस्त और गढ़वाल मस्त’’। शराब तो है ही घर- घर की बर्बादी का बहुत बड़ा कारण। पुरुष वर्ग इसका बुरी तरह शिकार है और दबी- सहमी महिलाएँ- बच्चे बर्बादी का यह तांडव झेलने को विवश हैं। लेकिन एक साहसी महिला श्रीमती कुसुम जोशी ने सन् 2010 में इसके विरुद्ध मोर्चा खोला और आज वह प्रदेश ही नहीं, देश में एक चर्चित चेहरा बन गई हैं। शराब बंदी की दिशा में असाधारण सफलता के लिए उन्हें दो बार राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्रियों और अनेक संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया जा चुका है।

श्रीमती कुसुम जोशी ने ऋषिकेश के श्यामपुर क्षेत्र से अपना शराब बंदी अभियान चलाना आरंभ किया।
उनके प्रयासों से प्रदेश में विवाहों में होने वाली कॉकटेल पार्टियों पर बहुत अधिक असर हुआ है। हज़ारों विवाह कॉकटेल पार्टियों के बिना करवाने में वे सफल रही हैं। श्रीमती जोशी ने आरंभ में घरघर जाकर आवाज़ उठाई और बहिनों को सहमत किया। हज़ारों बहिनों का सहयोग- समर्थन पाकर उन्होंने ‘मैती’ नामक संस्था बनाई। उनका आन्दोलन आसपास के गाँवों में तेजी से फैलता गया। आज प्रदेश के नौ राज्यों में मैती संस्था सक्रिय है। अन्य प्रदेशों में भी यह आन्दोलन फैल रहा है। इस अभियान की सबसे बड़ी सफलता के रूप में देवप्रयाग के गाँव डडुआ भंडाली में लगने वाली शराब की फैक्ट्री पर प्रतिबंध लगवाना है। यह हज़ारों बहिनों के सामूहिक प्रयासों से ही सम्पन्न हो सका।


Write Your Comments Here:


img

anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री मंत्र और गायत्री माँ के चम्त्कार् के बारे मैं बताया

मैं यशवीन् मैंने आज राजस्थान के barmer के बालोतरा मैं anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री माँ के बारे मैं बच्चों को जागरूक किया और वेद माता के कुछ बातें बताई और महा मंत्र गायत्री का जाप कराया जिसे आने वाले.....

img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....