Published on 2020-11-16 KAUSHAMBI
img

भरवारी/कौशाम्बी: बचपन में हमें जो संस्कार मिलते हैं उन्हीं संस्कारों की नींव में हमारा भविष्य खड़ा होता है। इस के अनुरूप नैतिकता की राह व समाज के प्रति जागरूक व जिम्मेदार बनाने का कार्य कर रही  बाल संस्कारशाला टीम द्वारा किया जा रहा है।सिराथू तहसील के सिंघिया गाँव मे बाल संस्कारशाला टीम द्वारा प्रत्येक वर्ष इस वर्ष भी दीपावली उत्सव के आयोजन में बच्चों ने आतिशबाजी रहित प्रदूषण मुक्त दीपावली मनाई तथा भविष्य में पटाखे,आतिशबाजी आदि पर्यावरण को नुकसान पहुचाने वाली चीजों से दूरी बनाने व न प्रयोग करने का संकल्प लिया।बाल संस्कारशाला सिंघिया के संचालक अजीत कुशवाहा ने बताया कि सम्भाषण प्रतियोगिता में  प्रतिभागियों को मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम पर विषय दिया गया जिसमें विद्यार्थियों द्वारा श्रीराम से मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम बनने पर संक्षिप्त अभिव्यक्ति जानी गई।प्रतियोगिता में विद्यार्थियों ने विभिन्न विभिन्न तरीकों से ऑनलाइन सम्भाषण रिकॉर्ड कर शोशल मीडिया के माध्यम से संस्कारशाला टीम सदस्य अनुराग जायसवाल को प्रेषित किया ।अनुराग जायसवाल ने बताया कि सम्भाषण प्रतियोगिता का परिणाम शुद्ध वाचन,विचारों की प्रचुरता का क्रम एवं अभिव्यक्ति की शैली पर निर्भर रहा।बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले तीन प्रतिभागियों में प्रथम स्थान पर सरल कुमार द्वितीय स्थान पर श्रिया और तीसरे स्थान पर अभिषेक को  उत्साहवर्धन हेतु पुरस्कृत किया गया।


Write Your Comments Here:


img

.....

img

विवेकानंद निबंध प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

◆ राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर बाल संस्कारशाला सिंघिया में हुआ आयोजन◆ शीर्ष तीन प्रतिभागी हुए सम्मानितकौशाम्बी: स्वामी विवेकानंद जी के जयंती के अवसर पर कौशाम्बी जिले के भरवारी नगर में संचालित बाल संस्कारशाला सिंघिया में स्वामी विवेकानंद निबंध.....