Published on 2021-07-11 BALRAMPUR
img

3 दिवसीय गायत्री महायज्ञ एवं साहित्य प्रसार (पुस्तक मेला)
ग्राम - बेलभरिया-मोतिहवा ( जनपदीय सीमा -सिद्धार्थ नगर-बलरामपुर )

अ0वि0 गायत्री परिवार शांतिकुंज के नौ कुंडीय गायत्री महायज्ञ श्रिखला के अंतर्गत ग्राम
बेलभरिया-मोतिहवा ( जनपदीय सीमा -सिद्धार्थ नगर-बलरामपुर )
मे एक 3 दिवसीय यज्ञ ,संस्कार एवं साहित्य प्रसार और प्रज्ञा पुराण कथा का आयोजन चल रहा है ।
यज्ञ , संस्कार की शुरुआत भव्य कलश यात्रा के साथ हुई । कलश यात्रा का आकर्षण पीतवस्त्र धारी माताओं और बहनो की टोली और सामाजिक बुराइयों से संबन्धित झांकी रही । आयोजन के दूसरे दिन प्रातः यज्ञ , दीक्षा संस्कार तथा सायंकाल सहस्र वेदीय दीप यज्ञ और प्रवचन का आयोजन हो रहा है । प्रवचन मे शांतिकुंज हरिद्वार के प्रतिनिधि श्री सत्यप्रकाश शुक्ला , श्री राम भारती, श्री कृष्णकुमार पांडे तथा अन्य प्रवचन कर्ताओं ने धरती पर स्वर्ग के अवतरण और मानव मे देवत्व का उदय कैसे हो , इस विषय पर कहा । समस्त मानव जाती मे सभी प्रकार के बाधाओं ( दैहिक , दैविक और भौतिक ) पर विजय पाने के लिए एकमात्र उपाय बलिवैश्व को बताया । कार्यक्रम आयोजन की मुख्य भूमिका श्री अरुण कुमार (मस्तराम) तथा राम बिलास मौर्य की थी तथा प्रेरणास्रोत माताजी श्रीमती शांतिदेवी रही । यज्ञ आयोजन मे श्री अंगद प्रजापति , भारती जी , तथा गायत्री परिवार पचपेडवा, गैंसड़ी तथा तुलसीपुर के परिजनों की भूमिका सराहनीय रही।


Write Your Comments Here:


img

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में गायत्री शक्तिपीठ लंका द्वारा लगाई गई सात दिवसीय साहित्य प्रदर्शनी बनी युवाओं के लिए आकर्षण का केंद्र*

*काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में गायत्री शक्तिपीठ लंका द्वारा लगाई गई सात दिवसीय साहित्य प्रदर्शनी बनी युवाओं के लिए आकर्षण का केंद्र*💖🌹💖🌹💖🌹💖*17-23 सितंबर,बी.एच.यू.*             गायत्री शक्तिपीठ,नगवां,लंका,वाराणसी के बैनरतले काशी हिन्दू विश्वविद्यालय मंडल एवं युवा प्रकोष्ठ द्वारा *दिनांक.....

img

घाटोल (बांसवाड़ा) में तिरंगा यात्रा का नेतृत्व करती देवियाँ

घाटोल, बांसवाड़ा। राजस्थानगायत्री शक्तिपीठ घाटोल द्वारा आजादी के अमृतमहोत्सव के उपलक्ष्य में 14 अगस्त को तिरंगा यात्रानिकाली गई। आसपास के गाँवों में बसे गायत्री परिवारके परिजनों ने बड़ी संख्या में आकर इस राष्ट्रीय उत्सवमें भाग लिया। स्थानीय महिला मंडल की.....

img

नारी सशक्तीकरण प्रशिक्षण सत्र शृंखला

हर क्षेत्र में बड़ी संख्या में तैयार हो रही हैं बहिनों की सृजन वाहिनियाँउज्जैन। मध्य प्रदेशनारी सभ्य समाज की निर्माता है। माता द्वारादिया गया ज्ञान ही व्यक्तित्व की बुनियाद होताहै। व्यक्तित्व की महानता माता के उच्च विचारऔर संस्कारों पर निर्भर.....