Published on 2021-10-12 HARDWAR
img

यह लगातार दूसरा वर्ष है जब 21 जून, अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह आॅनलाइन ही सम्पन्न होगा। समारोह की योजना बनाने के संदर्भ में आयुष मंत्रालय ने 24 मई 2021 को एक अंतर-मंत्रालय बैठक की मेजबानी की, जिसकी अध्यक्षता केन्द्रीय मंत्री किरेन रिजिजू, विभिन्न मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारियों और योग विशेषज्ञ महानुभावों/ हितधारकों ने की। हरिद्वार से देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी ने बैठक में भाग लेते हुए अखिल विश्व गायत्री परिवार के विचारों को साझा किया।
आदरणीय डॉ. चिन्मय जी ने सातवें अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के दिन गायत्री जयन्ती और गंगा दशहरा के संयोग की चर्चा की। उन्होंने कहा कि गायत्री और योग का अन्योन्याश्रित सम्बन्ध है। गायत्री उपासना, साधना के बिना जीवन में समत्व की कल्पना नहीं की जा सकती। जीवन में समत्व की साधना के बिना योग-सिद्धि संभव नहीं। इसलिए जीवन के उत्कर्ष एवं वैश्विक सुख, शान्ति, प्रगति के लिए गायत्री उपासना-साधना की ही जानी चाहिए।   
इस विचार का पर्यटन मंत्रालय के अधिकरियों ने भाव भरा स्वागत किया और कहा कि गायत्री मंत्र अनुपम है। विश्व समुदाय में मंत्रों की एक अहम गरिमा और आकर्षण है।
केन्द्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने सभी प्रमुख हितधारकों को धन्यवाद देते हुए बैठक का समापन किया और कहा कि अधिक से अधिक लोगों को योग के साथ जोड़ने के प्रयास किए जाने चाहिए।


Write Your Comments Here:


img

प्रांतीय युग सृजेता कार्यकर्ता गोष्ठी, बलरामपुर

🔷 *प्रांतीय युग सृजेता समारोह में जुटा गायत्री परिवार*🔷 *बलरामपुर में संपन्न हुई गायत्री परिवार उत्तर प्रदेश की गोष्ठी*29 नवंबर, बलरामपुर।अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा भगवान बुद्ध की तपस्थली श्रावस्ती में नवंबर 2022 में होने जा रहे युवा महाआयोजन.....

img

मिशन के लिए समर्पित चिकित्सक दम्पति ने लगभग 500 कोरोना मरीज़ों की जान बचाई

वडोदरा। गुजरात : गायत्री परिवार के सेवाभावी चिकित्सक दम्पति डॉ. मधु खण्डेलवाल नैनीवाल, एम.डी. (इण्टेन्सिव केअर कंसल्टेण्ट) एवं डॉ. ललित नैनीवाल, एम.डी. एसोसिएट प्रोफेसर जीएमईआरएस, गोत्री मेडिकल कॉलेज ने अपनी विशिष्ट योग्यता एवं सेवाभावना का परिचय देते हुए विगत एक.....

img

100 गाँवों में केशर आम के 5000 पौधों का रोपण

सैंधवा, बड़वानी। मध्य प्रदेश सेंधवा शाखा द्वारा इस वर्ष बड़वानी, खरगोन, धार और धुलिया (महाराष्ट्र) के 100 गाँवों में किसानों को केशर आम की उत्तम किस्म की 5000 पौध वितरित करने का कार्यक्रम है। यह पौध इन जिलों में गुरुपूर्णिमा,.....