Published on 2021-10-31 HARDWAR
img

बड़ी संख्या में भावनाशील परिजनों की माँग को ध्यान में रखते हुए शान्तिकुञ्ज द्वारा परम पूज्य गुरुदेव द्वारा रचित ‘गरुड़ पुराण’ कथासार ग्रंथ का संशोधित संस्करण प्रकाशित किया गया है। मरणोत्तर शोककाल के 12 दिनों में गरुण पुराण कथा का बड़ा महत्व बताया गया है।  समाज की इसके प्रति गहरी आस्था है। इसे देखते हुए युगऋषि के प्रगतिशील चिन्तन के साथ प्रकाशित यह ग्रंथ पितरों को शान्ति-सद्गति प्रदान करने एवं परिवारी जनों की श्रद्धा बढ़ाने में महत्त्वपूर्ण योगदान देगा। उत्सुक परिजन शान्तिकुञ्ज से इसे प्राप्त कर सकते हैं।


Write Your Comments Here:


img

गायत्री परिवार कौशाम्बी के युवा प्रकोष्ठ इकाई की जनपद स्तरीय संगोष्ठी का हुआ आयोजन

गायत्री परिवार कौशाम्बी के युवा प्रकोष्ठ इकाई की जनपद स्तरीय संगोष्ठी का हुआ आयोजनयुवा प्रकोष्ठ कौशाम्बी की संगोष्ठी 16 जनवरी को ओसा में सम्पन्न हुई। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि डॉ. अशोक कुमार जी के द्वारा दीप प्रज्ज्वलन से हुई।.....

img

कुशल प्रशिक्षण संग व्यक्तित्व परिष्कार का अद्भुत समन्वय

र्ष के प्रथम दिवस से प्रारंभ होकर 3 दिनों तक चलने वाले उपजोन प्रशिक्षण में वाराणसी उपजोन के सभी जनपदों से 100 से अधिक प्रशिक्षणार्थी गायत्री शक्तिपीठ नगवां,लंका,वाराणसी के दिव्य प्रांगण में प्रतिभाग लिए । जहां जोन की टोली द्वारा.....

img

सृजन साधना: युवा प्रकोष्ठ गायत्री शक्तिपीठ नगवां,लंका वाराणसी के सृजन सैनिकों द्वारा नियमित साप्ताहिक गतिविधियां सम्पन्न

                       शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वाधान एवं गायत्री शक्तिपीठ नगवां,लंका वाराणसी के संयोजन में युवा प्रकोष्ठ द्वारा नियमित रूप से संचालित विभिन्न युवामंडलों व बाल संस्कारशालाओं की प्रमुख गतिविधियां इस प्रकार.....