Published on 2021-12-25 VARANASI
img

सकलडीहा, चंदौली, उत्तर प्रदेश l                   उपरोक्त पंक्तियां शब्द नहीं बल्कि 33 वर्षों के पल-पल की अनुभूति है जो आज पुनः जीवंत हो उठी *जनपद चंदौली के सकलडीहा स्थित बहबलपुर ग्राम में जहां पूर्णतया नए परिजनों में प्रथम बार आयोजित 2 दिवसीय युगऋषि संदेश व गायत्री महायज्ञ में गुरुवर के कारण शरीर के विस्तार में नए सैकड़ों स्वजन समाहित हो गए और 24 स्वजन तो उनके अंग अवयव बन सृजन सैनिक की भूमिका में आने के संकल्प संग दीक्षा के रूप में युगऋषि से साझेदारी भी की।युगऋषि द्वारा प्रदत्त *वैज्ञानिक अध्यात्मवाद ने युवा भाइयों - बहनों पर वो जादू किया कि जहां आज वे आधे घण्टे भी अपने घर के धार्मिक कृत्य में अभिभावकों के निवेदन पर भी पूर्ण मनोयोग से शामिल नहीं हो पा रहे वहीं 4-4 घंटे से अधिक के तीन सत्र में बिना किसी वाह्य प्रभाव के स्वप्रेरणा से पूर्ण मनोयोग संग बने रहे।    कार्यक्रम में *संदेशवाहक की भूमिका जहां गायत्री शक्तिपीठ नगवां लंका वाराणसी के प्रतिनिधि द्वारा निभाई गई वहीं संगीत में स्थानीय उपस्थित भाई बहनों का सहयोग यह दर्शाने को पर्याप्त है कि निःस्वार्थ समर्पण संग गुरुवर की चेतना सतत कार्य करती है।*
कार्यक्रम में *बहबलपुर आयोजक मंडल के प्रेरणा उनके निकटस्थ श्रीराम युवा मंडल,स्थानीय सकलडीहा चेतना केंद्र,चंदौली, बहेड़ी,चाकियाँ,मुगलसराय व सैय्यदराजा गायत्री शक्तिपीठ के ट्रस्टियों/प्रतिनिधियों का भी स्नेह-सहयोग-आशीष-प्रार्थना प्रत्यक्ष व परोक्ष रूप से सतत बना रहा।* गुरुकृपा से सदा की भांति मिला प्रेम विदाई बेला को असह्य बनाने हेतु पर्याप्त था।
विशेष- पूरे कार्यक्रम का #live (जीवंत) प्रसारण गायत्री शक्तिपीठ,नगवां,लंका,वाराणसी के द्वारा शक्तिपीठ फेसबुक पेज पर किया गया है* जो जन जन के लिए जहां यादगार व आनंददायक है वहीं संचालक(संदेशवाहक/युगगायक)व आयोजक के लिए समीक्षा का एक बेहतर आधार भी है।


Write Your Comments Here:


img

गायत्री परिवार कौशाम्बी के युवा प्रकोष्ठ इकाई की जनपद स्तरीय संगोष्ठी का हुआ आयोजन

गायत्री परिवार कौशाम्बी के युवा प्रकोष्ठ इकाई की जनपद स्तरीय संगोष्ठी का हुआ आयोजनयुवा प्रकोष्ठ कौशाम्बी की संगोष्ठी 16 जनवरी को ओसा में सम्पन्न हुई। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि डॉ. अशोक कुमार जी के द्वारा दीप प्रज्ज्वलन से हुई।.....

img

कुशल प्रशिक्षण संग व्यक्तित्व परिष्कार का अद्भुत समन्वय

र्ष के प्रथम दिवस से प्रारंभ होकर 3 दिनों तक चलने वाले उपजोन प्रशिक्षण में वाराणसी उपजोन के सभी जनपदों से 100 से अधिक प्रशिक्षणार्थी गायत्री शक्तिपीठ नगवां,लंका,वाराणसी के दिव्य प्रांगण में प्रतिभाग लिए । जहां जोन की टोली द्वारा.....

img

सृजन साधना: युवा प्रकोष्ठ गायत्री शक्तिपीठ नगवां,लंका वाराणसी के सृजन सैनिकों द्वारा नियमित साप्ताहिक गतिविधियां सम्पन्न

                       शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वाधान एवं गायत्री शक्तिपीठ नगवां,लंका वाराणसी के संयोजन में युवा प्रकोष्ठ द्वारा नियमित रूप से संचालित विभिन्न युवामंडलों व बाल संस्कारशालाओं की प्रमुख गतिविधियां इस प्रकार.....