Published on 2022-04-17
img

17अप्रैल,गुल्लावीर बाबा मंदिर,बीएचयू,वाराणसी 9 कुंडीय गायत्री महायज्ञ के माध्यम से भारत के भविष्य *युवा पीढ़ी में वैज्ञानिक आध्यात्मवाद को पहुंचाने हेतु युगऋषि के संरक्षण में,शांतिकुंज के मार्गदर्शन में एवं गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के निर्देशन में बीएचयू मंडल द्वारा* 17 अप्रैल को गुल्लावीर बाबा मंदिर,बीएचयू में कार्यक्रम आयोजित किया गया। *जहां 10 से अधिक छात्रावासों से सैकड़ों युवा छात्र-छात्राओं ने* न केवल पूर्ण तन्मयता संग प्रतिभाग किया बल्कि *ऋषि के इस दिव्य व जीवनोपयोगी सूत्रों को अंपने मित्रों/सहेलियों में पहुंचाने हेतु अपने छात्रावास में यथासंभव कार्यक्रम आयोजित कराने हेतु संकल्पित भी हुए।* 🌺🌺🌺🌺🌺 कार्यक्रम के दौरान गुरुवर के संदेशवाहक व शक्तिपीठ प्रतिनिधि ने कहा कि *जिन्होंने भी युवा अवस्था में आध्यात्म का वरण कर लिया उनका जीवन सार्थक व सफल होता चला गया*।आप सभी सौभाग्यशाली हैं जो इस पुण्य भूमि पर परमात्मा ने आपको यह सुअवसर प्रदान किया। *अब वरण करने,न करने की आजादी आपको है।* साथ ही गायत्री व यज्ञ के वास्तविक स्वरूप को भी युवाओं तक पहुंचाया गया।इस दौरान *युवाओं की तन्मयता व शारीरिक हावभाव से ऐसा प्रतीत हो रहा था जैसे विद्यार्थी नहीं बल्कि सिद्ध संतों का जमावड़ा हो।* 🌺🌺🌺🌺🌺 कई पालियों में चले यज्ञीय आयोजन के उपरांत सबने मां अन्नपूर्णा क्षेत्र में जाकर सामूहिक भोजन प्रसाद भी ग्रहण किया व उसके उपरांत अपना *अधिकतम समय युगऋषि की साहित्य प्रदर्शनी पर बिताया व पर्याप्त साहित्य अपने व अपने साथियों के लिए क्रय भी किया।* 🌺🌺🌺🌺🌺🌺 कार्यक्रम में *राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ काशी दक्षिण भाग के धर्म जागरण प्रमुख दिवाकर राय जी* की गरिमामय उपस्थिति रही जिनका स्वागत *वाराणसी के मानिंद सर्जन व गायत्री शक्तिपीठ के मुख्य प्रबंध ट्रस्टी डॉ.रोहित गुप्ता जी द्वारा तिलक एवं माल्यार्पण द्वारा* किया गया और उपस्थित *युवाओं को काशी हिंदू विश्वविद्यालय में आईटी के प्रोफेसर व शक्तिपीठ के ट्रस्टी प्रो.अनिल अग्रवाल जी द्वारा मार्गदर्शन* दिया गया।साथ ही *बीएचयू मंडल के प्राणवान परिजन व वाराणसी गायत्री परिवार के आधार स्तंभों में से एक श्यामधर पांडेय जी का सपत्नीक विवाह दिवस भी संपन्न* हुआ। 🌺🌺🌺🌺🌺 कार्यक्रम की *व्यवस्था में मातृशक्तियों संग युवा भाइयों का भी अविस्मरणीय योगदान* रहा।कर्मकांड व संगीत शक्तिपीठ के सम्माननीय परिव्राजक द्वारा संचालित किया गया।


Write Your Comments Here:


img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....

img

गर्भवती महिलाओं की हुई गोद भराई और पुंसवन संस्कार

*वाराणसी* । गर्भवती महिलाओं व भावी संतान को स्वस्थ व संस्कारवान बनाने के उद्देश्य से भारत विकास परिषद व *गायत्री शक्तिपीठ नगवां लंका वाराणसी* के सहयोग से पुंसवन संस्कार एवं गोद भराई कार्यक्रम संपन्न हुआ। बड़ी पियरी स्थित.....