Published on 2022-04-24
img

*24 अप्रैल,वाराणसी* अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा अनुमोदित *गायत्री शक्तिपीठ,नगवां,लंका द्वारा रविवार को एक परिवार सम्मेलन का आयोजन* किया गया।ये सम्मेलन अपने आप में अनूठा था जिसका कारण था इसकी संकल्पना। *आज जहाँ परिवार नामक संस्था ही अपने अस्तित्व की बाट जोह रही हो वहीं परिवारों को स्नेहिल डोर से बांधने का कोई उपक्रम भी इस भागदौड़ भरे समय में हो सकता है यही संकल्पला ही इस सम्मेलन को विशेष बना देती है*।आज चाहे संयुक्त परिवार हो या एकल परिवार हर जगह टूटन है,बिखराव है। *पारिवारिक सदस्यों में आत्मीयता,संवाद का अभाव बढ़ता ही जा रहा है और यही विश्वास का अभाव बढ़ते-बढ़ते परिवारों के टूटने तक बना रहता है ऐसे समय में इस प्रकार के आयोजन ठहराव की वज़ह बनते हैं।* ऐसे कार्यक्रमों से आपसी संवाद,विश्वास का एक माहौल बनता है जिसमें सभी पारिवारिक सदस्य फिर से एक आत्मीयता के डोर से बंध जाते है। गायत्री परिवार के इस आयोजन में *मुख्य अतिथि के रूप में एन.डी.आर.एफ. कमांडेंट मनोज शर्मा जी और उनकी धर्मपत्नी चारू शर्मा जी थे।* कमांडेंट महोदय ने कहा कि ऐसे परिवार सम्मेलन आज वक्त की माँग है और *ऐसे आयोजनों से टूटते परिवारों को जोड़ने में मदद मिलेगी।* मंच पर अतिथि महोदय के संग-संग *शक्तिपीठ के मुख्य प्रबंध ट्रस्टी व शहर के सुप्रसिद्ध सर्जन डॉ.रोहित गुप्ता जी*,गायत्री परिवार,वाराणसी के *वरिष्ठतम प्रतिनिधि व ट्रस्टी विंध्याचल सिंह जी* एवं उपजोन वाराणसी के *समन्वयक सुरेश यादव जी* उपस्थित रहे।कार्यक्रम में *वाराणसी नगर क्षेत्र एवं सभी विकास खंडों सहित शक्तिपीठ टोली द्वारा हाल में ही संपन्न हुए प्रज्ञा पुराण कथा स्थल सराय पकवान,बहबलपुर,मोहनसराय, रामनगर सहित पड़ाव,मुगलसराय व दुल्हीपुर के मंडलों से भी स्वजनों ने सपरिवार प्रतिभाग किया*।लोग अत्यंत मधुर स्मृतियों संग कार्यक्रम से विदा हुए। 🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻 शक्तिपीठ द्वारा स्वजनों को आभार - 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 *गायत्री शक्तिपीठ,लंका की ओर से आप सभी आत्मीय स्वजनों का बारंबार आभार* कि आप सभी छोटे से संपन्न हुए प्रथम प्रयोग में न केवल नवयुग के मत्स्यावतार का साक्षात भान कराया बल्कि अपना भरपूर स्नेह प्रदान कर आनंद की गंगा बहा दी। *इस शून्य निवेश नवाचार को यादगार बनाने हेतु आप सभी युग ऋषि के अंग अवयवों को पुनः साधुवाद।* 🏵️🌺🏵️🌺🏵️🌺🏵️ *विशेष उपलब्धि* - *(1)* निवेदन स्वीकार अधिकतम समर्पित स्वजनों की *प्रथम बार एक साथ सपरिवार उपस्थिति।* *(2)* प्रातः 8 बजे के आह्वाहन पर भी नगर ही नहीं *लगभग सभी विकास खंडों के स्वजनों की ससमय उपस्थिति।* *(3)* समर्पित स्वजनों की *संख्यात्मक उपस्थिति ने कराया नवयुग के मत्स्यावतार का दर्शन।* *(4)* गुरुवर के उस विराट प्रेम व आत्मीयता से सृजित गायत्री परिवार के स्वरूप का सबने किया आभास। *सबके शब्दों,नेत्रों व भावभंगिमा से हर पल उस विराट प्रेम को हम सबने जिया।* *(5)* व्यवस्था से लेकर कार्यक्रम तक *चार-चार पीढ़ियों में दिखा अदभुत तालमेल।* जहां अग्रजों ने बरसाया स्नेह और युवाओं को दी कार्य करने की पूरी छूट व व्यवस्था वहीं अनुजों ने की सम्मान की वर्षा। 🏵️🌺🏵️🌺🏵️🌺🏵️ *आपकी स्नेह ऊर्जा से उभरा संकल्प* - अब तक आप *सभी से प्राप्त हो रहे स्नेहाशीष व इसके विराट स्वरूप के दर्शन की अभिलाषा ने ट्रस्ट मंडल सहित पूरी व्यवस्था तंत्र में नवऊर्जा का संचार* किया है।अतः हम सब कृत संकल्पित हैं कि *आगामी समय में इस बार की रह गई अनेक ज्ञात कमियों को पूर्णरूपेण दूर करते हुए समय सीमा के विस्तार संग एक बड़े परिसर में अनेक नवीनताओं संग (जो इस बार चाहकर भी न किया जा सका)करने का पूर्ण प्रयास करेंगे।* बस यूं ही गुरुकृपा संग गुरुवर के संकल्पशक्ति व हस्ताक्षर से सृजित *गायत्री शक्तिपीठ,लंका संग आप सबका स्नेह सहयोग सतत बना रहे,* जिससे हम सब संगठित हो गुरुवर के सच्चे स्वरूप को जन जन तक पहुंचा उनके सपनों को साकार कर अपने जीवन को सार्थकता दे सकें। *गुरुदेव-माताजी का संरक्षण सदा आप,आपके परिवार व क्षेत्र पर बना रहे।* ऐसी प्रार्थना गुरुवर से। 🏵️🌺🏵️🌺🏵️🌺🏵️ सभी को सादर प्रणाम संग पुनः साधुवाद। *गायत्री शक्तिपीठ,नगवां,लंका,वाराणसी* 🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻🙏🏻 *पूरे कार्यक्रम का सीधा प्रसारण हम सभी गायत्री शक्तिपीठ नगवां के फेसबुक आई.डी. पर जाकर देख सकते हैं।* संदेश सहित सभी के पारिवारिक/क्षेत्रीय फोटोग्राफ्स कुछ समय बाद प्रेषित कर दिए जायेंगे। Live https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=665025061229038&id=100050487125471&sfnsn=wiwspmo https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=528652125494354&id=100050487125471&sfnsn=wiwspmo https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=528663275493239&id=100050487125471&sfnsn=wiwspmo https://youtu.be/1noZ-96kmws


Write Your Comments Here:


img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....

img

गर्भवती महिलाओं की हुई गोद भराई और पुंसवन संस्कार

*वाराणसी* । गर्भवती महिलाओं व भावी संतान को स्वस्थ व संस्कारवान बनाने के उद्देश्य से भारत विकास परिषद व *गायत्री शक्तिपीठ नगवां लंका वाराणसी* के सहयोग से पुंसवन संस्कार एवं गोद भराई कार्यक्रम संपन्न हुआ। बड़ी पियरी स्थित.....