Published on 2022-08-08
img

तैयार करेंगे अपने जैसाएक नया योग साधक
‘सादा जीवन, उच्च विचार’ के सूत्र कोअपनाना उच्च कोटि की योग साधना है।
उज्जैन। मध्य प्रदेश : 8वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवसपर गायत्री शक्तिपीठ उज्जैन ने योग को मानवीयउत्कर्ष को प्राप्त करने का विज्ञान बताया। शक्तिपीठप्रतिनिधियों ने कहा कि ‘सादा जीवन, उच्च विचार’ केसिद्धान्त को जीवन में उतारना भी उच्च कोटि की योगसाधना है। शक्तिपीठ पर आयोजित मुख्य समारोह में75 साधकों ने एक वर्ष में अपने जैसा कम से कम एकयोग साधक तैयार करने का संकल्प लिया।शक्तिपीठ उज्जैन की ओर से अनेक संस्थानोंमें योग दिवस के विशेष कार्यक्रम सम्पन्न कराए गए।सायंकाल बास्केटबॉल एरीना माधव कॉलेज में बच्चोंके साथ अभिभावकों ने सामूहिक योगाभ्यास किया।उज्जैन विक्रम विश्वविद्यालय, आरोग्य भारतीद्वारा आयोजित योग दिवस समारोह में गायत्री परिवारउज्जैन के वरिष्ठ डॉ.एन एस शर्मा आयुर्वेद चिकित्सकको मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था।उन्होंने योग को व्यावहारिक जीवन में अपनाने के सूत्रदिए तथा अपने व्यक्तिगत अनुभव भी बांटे। कार्यक्रमकी अध्यक्षता श्री अखिलेश कुमार पांडेय कुलपतिविक्रम विश्वविद्यालय ने की तथा वक्ता डॉ. अशोककुमार वार्ष्णेय सचिव आरोग्य भारती थे।


Write Your Comments Here:


img

श्रद्धा-संवेदना की सृजनात्मक सामर्थ्य से जनमानस को बदलने के प्रयास

गोद लिए गंगातट के सात घाटों का कायाकल्प कियाकोलकाता। प. बंगाल श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी ने अक्टूबर 2017 में गायत्री परिवार यूथ ग्रुप  कोलकाता को गंगातट शुद्धि अभियान का संकल्प दिलाया था। तब से जीपीवायजी के युवाओं द्वारा हर शनिवार को गंगातटपर स्वच्छता अभियान.....

img

अन्य अभियान

1,63,685 पेड़ लगाए 28 अगस्त, 2022 को गायत्री परिवार यूथ ग्रुप कोलकाता का 618वाँ साप्ताहिक रविवासरीय वृक्षारोपण कार्यक्रम सम्पन्नहुआ। अभी तक के 617 रविवार में इस क्रान्तिकारी युवा संगठन द्वारा 1,63,685 पेड़ लगाए चुके हैं। ‘मिशन 3650’ 735 दिनों से प्रतिदिन लगातार चल रहे  वृक्षारोपण के एक अन्य.....

img

स्वतंत्रता दिवस पर रक्तदान शिविर

13वाँवार्षिक रक्तदान शिविरभीलवाड़ा। राजस्थान गायत्री परिवार की भीलवाड़ा शाखा द्वारा 15 अगस्त को देश  की स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के उपलक्ष में एक विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। लगातार बारिश के बावजूद भी प्रात: 10 बजे सेशाम 4 बजे तक चले रक्तदानशिविर में 179.....