Published on 2022-08-08
img

विशिष्ट संदेश : गुरूपूर्णिमा पर्व के उपलक्ष्यमें 11 जुलाई की सायं आदरणीय श्री शिवप्रसादमिश्रा जी का अत्यंत श्रद्धापरक विशेष उद्बोधनहुआ। उन्होंने कहा कि शिष्य श्रद्धा, समर्पणके साथ जब अपने सद्गुरू  से मिलता है, तबसद्गुरूदेव अपने तप और पुण्य का एक अंशशिष्य के व्यक्तित्व में आरोपित कर उसकेचहुमुखी विकास का मार्ग खोल देते हैं। अपने कईसंस्मरणों के माध्यम से श्रोताओं के हृदय में श्रद्धा-भावना बढ़ाते हुए उन्होंने पूज्य गुरूदेव के जीवनपथ एवं जीवन सूत्रों को अपनाने की प्रेरणा दी।गुरूपर्व की पूर्व संध्या पर डॉ. चिन्मयपण्ड्या जी का ‘नारी सशक्तीकरण वर्ष’ केसंदर्भ में विशेष उद्बोधन हुआ। इससे पूर्व अपराह्नकालीन सभा में श्री केदार प्रसाद दुबे ने ‘जन्म शताब्दी वर्ष एवं हमारे दायित्व, सप्त आन्दोलन एवं संकल्प’ विषय पर संदेश दिया। उन्होंने समय की माँग और चुनौतियों की चर्चा करते हुए युगसृजेताओं को सृजनात्मक गतिविधियों में प्रवृत्त करने सम्बन्धी मार्गदर्शन दिया।


Write Your Comments Here:


img

समाज को सकारात्मकता एवं सृजनात्मक उत्कृष्टता की ओर प्रेरित करते कार्यक्रम

पीड़ित युवतियों के उत्थान के प्रयासरेस्क्यू फाउण्डेशन में जाकर मनाया जन्मदिवसबोरीवली, मुंबई। महाराष्ट्ररेस्क्यू फाउंडेशन देह व्यापार से छुड़ाई गई युवा लड़कियों के पुनर्वास के लिए काम करने वाली स्वयंसेवी संस्था है, जो पूरे महाराष्ट्र में सक्रिय है। दिया, मुम्बई के.....

img

1126 जोड़ों का सामूहिक विवाह संस्कार

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश श्रम विभाग प्रयाजराज की ओर से दिनांक 13 मार्च को सामूहिक विवाह का विशाल समारोह आयोजित किया गया। माघ मेला, परेड ग्राउण्ड में आयोजित इस संस्कार समारोह में 1126 जोड़ों ने और 18 मुस्लिम जोड़ों ने गृहस्थ.....

img

छत्तीसगढ़ में नारी सशक्तीकरण के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण

‘विजन 2026’ के साथ हो रहे हैं कार्यक्रम छत्तीसगढ़ के प्रान्तीय संगठन द्वारा ‘विजन-2026’ को लेकर 11 मार्च से 25 अप्रैल 2023 तक बहिनों का ऑनलाइन प्रशिक्षण शिविर चलाया जा रहा है। यह प्रशिक्षण परम वंदनीया माताजी की जन्मशताब्दी वर्ष.....