Published on 2022-09-16
img

धनबाद। झारखंड
दिनांक 6-7 अगस्त 2022 को धनबाद मेंप्रान्तीय युवा सम्मेलन एवं प्रशिक्षण शिविरसम्पन्न हुआ। युवा प्रकोष्ठ समन्वयकशान्तिकुञ्ज प्रतिनिधि श्री केदार प्रसाद दुबेजी, श्री आशीष कुमार सिंह तथा पूर्वी जोनप्रतिनिधि श्री बृजकिशोर त्रिभुवन की प्रमुखउपस्थिति में इस शिविर में अखण्ड ज्योतिके प्राकट्य व जन्मशताब्दी वर्ष-2026 तथानारी सशक्तीकरण वर्ष की कार्ययोजनाओं परविचार मंथन हुआ। प्रान्त के 24 जिलों से576 युवाओं की भागीदारी रही। जिलों केजिला समन्वयक एवं सदस्यों के अलावा 5शक्तिपीठों के प्रबंधक-संगठकों ने भाग लिया।प्रान्तीय युवा प्रकोष्ठ समन्वयक श्रीसंतोष कुमार राय के अनुसार दो दिनोंतक चले विचार मंथन के बाद प्रदेश केप्रत्येक प्रखण्ड से 100 युवाओं को जोड़नेऔर उनके माध्यम से विविध रचनात्मकआन्दोलनों को गति देने का लक्ष्य रखा गयाहै। लक्ष्य सिद्धि के लिए प्रखण्ड स्तर केसंगठन का पुनर्गठन कर जिम्मेदारियाँ सौंपीगइर्ं, संकल्प दिलाए गए। योजनाओं केक्रियान्वयन हेतु उपजोन स्तर पर 7 भाई-बहिनों को जिम्मेदारी दी गई। इस शिविर कामंच संचालन प्रांतीय युवा समन्वय समितिके श्री सुरेश कुमार और श्री शम्भूनाथ दुबेने किया।विशिष्ट कार्यक्रमों का लाभ मिलाप्रान्तीय युवा सम्मेलन को सम्बोधितकरने पहुँचे केन्द्रीय प्रतिनिधियों ने नगरमें आयोजित कुछ महत्त्वपूर्ण सभाओं कोसम्बोधित किया, जिनके अच्छे परिणाममिले। उन विद्यालयों के निदेशक, प्राचार्यतथा शिक्षकों ने भी दो दिवसीय युवा सम्मेलनमें भाग लिया।विशिष्ट आयोजनों के क्रम में 5 अगस्तके दिन बी.आई.टी, सिंदरी में यूथ एक्सपोहुआ, जिसमें छात्रों के बीच कैरियर एवंव्यक्तित्व विकास सम्बन्धी प्रेरणाएँ दी गईं।दिनांक 6 अगस्त को प्रात: श्री आशीषसिंह ने राजकमल सरस्वती विद्या मंदिर में500 से अधिक बच्चों को सम्बोधित किया।उसी दिन श्री के.पी. दुबे जी का महोदाकॉलेज, धनबाद में व्यक्तित्व परिष्कारसम्बन्धी सारगर्भित उदबोधन हुआ।


Write Your Comments Here:


img

माननीय लोकसभा अध्यक्ष की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ देव संस्कृति विश्वविद्यालय का षष्ठम् समावर्त्तन समारोह

राष्ट्रवादी चिंतन और उदात्त व्यक्तित्व सम्पन्न युवा समाज को समर्पितदेव संस्कृति विश्वविद्यालय का छठवाँ दीक्षान्त समारोह दिनांक 1 नवम्बर 2022 को लोकसभा अध्यक्ष माननीय श्री ओम बिरला जी के मुख्य आतिथ्य और कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी की अध्यक्षता.....

img

देश के सांस्कृतिक अग्रदूत हैं यहाँ से शिक्षित विद्यार्थी

माननीय श्री ओम बिरला जीवेदमूर्ति, तपोनिष्ठ पं. श्रीराम शर्मा आचार्य जी ने पूरे विश्व को दिशा और प्रगतिशील विचार दिए हैं। इस विश्वविद्यालय में आध्यात्मिकता और आधुनिकता का अद्भुत समन्वय है। यह युग का नेतृत्व करने वाली नई पीढ़ी को.....

img

ये युवा जहाँ जायेंगे, वहाँ नया सवेरा लाएँगे

आदरणीय डॉ. चिन्मय पण्ड्या जीदेव संस्कृति विश्वविद्यालय ने क्रान्तिकारी युवा गढ़े हैं, जिनके भीतर परिवर्तन की आग है। अपने अंतस् की परिष्कृत-परिमार्जित लौ के साथ ये विद्यार्थी जहाँ भी जाएँगे वहाँ नया सवेरा कर देंगे। हमारे विद्यार्थी जहाँ जाएँगे, वहाँ.....