Published on 2022-11-19
img

राजनांदगाँव। छत्तीसगढ़परम पूज्य गुरूदेव की विचारधारा के अनुरूप बच्चों के व्यक्तित्व विकास के लिए समर्पित जिले की प्रतिष्ठित पाठशाला गायत्री विद्यापीठ में प्रादेशिक स्तर पर एकल विद्यालय खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। ज्ञात हो कि एकल विद्यालय दूरस्थ ग्रामीण अंचल में संचालित  ऐसे विद्यालय हैं। जहाँ सूर्य की रौशनी तक भी पहुँच नहीं पाती, ऐसे घने जंगलों में निवासरत बच्चों की संपूर्ण शिक्षा-दीक्षा की जिम्मेदारी एकल अभियान समिति द्वारा पूरी की जाती है।प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ प्रदेश के 15 अंचलों से आए 450 बच्चों ने भाग लिया। मुख्य रूप से बैलाडीला, दन्तेवाड़ा, जगदलपुर, कोण्डागांव, कांकेर, महासमुंद, राजनांदगांव, बिलासपुर, नवापारा (गरियाबंद), कोरबा, रायगढ़, अंबिकापुर, सूरजपुर, कुमकुरी (जशपुर), मनेन्द्रगढ़ आदि जिलों से बच्चे आए थे। ग्रामीण अंचलों से आए बच्चे गायत्री विद्यापीठ के उत्साहवर्धक वातावरण में स्वयं को पाकर प्रफुल्लित महसूस कर रहे थे।16 अक्टूबर-रविवार को प्रतियोगिता का भव्य समापन किया गया। एकल अभियान संभाग के अध्यक्ष श्री नंदकिशोर सुरजन, संभाग सचिव श्री अमर ललवानी, उपाध्यक्ष श्री माऊजी भाई पटेल सहित अनेक सेवा समितियों से जुड़े अधिकारी, गायत्री विद्यापीठ के शिक्षक-शिक्षिकाएँ समारोह में उपस्थित रहे। सभी की करतल ध्वनि के बीच खेल स्पर्धा में विजेता विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया। सभी प्रशिक्षकों को भी उनके सराहनीय योगदान हेतु सम्मानित किया गया। श्री नंदकिशोर सुरजन ने अपने संबोधन में भोलेभाले वनवासी बच्चों को भगवान का रूप बताया। उन्होंने कहा कि इनकी खिलखिलाहट प्रसन्नता का आभास करा रही है। उनके चेहरों की खुशी आयोजन की सच्ची सफलता है। हमारा प्रयास है कि यह खुशी सदैव उनके चेहरों पर रहे।


Write Your Comments Here:


img

अर्जित ज्ञान का सदुपयोग मानवता की भलाई के लिए होना चाहिए

पीएच.डी. की उपाधि प्राप्त कर रहे स्नातकों को देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति जी का संदेशवर्धा। महाराष्ट्र : देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी 14 जनवरी 2023 को वर्धा में जय महाकाली शिक्षण संस्था, अग्निहोत्री ग्रुप अॉफ इंस्टीट्यूशंस द्वारा आयोजित.....

img

दिल्ली में मंत्री, सांसद एवं गणमान्यों से भेंट

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉ. चिन्मय जी दिनांक 5 जनवरी 2023 को दिल्ली पहुँचे। वहाँ उन्होंने भारत सरकार के अनेक मंत्री एवं सांसदों से भेंट की। उनके साथ वर्तमान सामाजिक परिस्थितियों के संदर्भ में चर्चा हुई, उन्हें परम पूज्य गुरूदेव के संकल्प,.....

img

गुजरात के राज्यपाल से प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने पर चर्चा हुई

13 जनवरी 2023 को अपने गुजरात प्रवास में आदरणीय डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी गाँधीनगर स्थित राजभवन में राज्यपाल माननीय आचार्य देवव्रत जी से भेंट करने पहुँचे। शान्तिकुञ्ज की ओर से उन्हें पूज्य गुरूदेव का साहित्य भेंट किया। इस अवसर पर माननीय राज्यपाल जी से प्राकृतिक कृषि को बढ़ावा.....