Published on 2023-01-23
img

वैज्ञानिकों की नगरी में वर्ष पूर्णाहुति महोत्सव-2022
मुम्बई। महाराष्ट्रदिया, अणुशक्तिनगर विगत कई वर्षों से बीतते वर्ष की विदाई दीपयज्ञ के साथ करता आया है। इस वर्ष यह उत्सव एवरेस्ट भवन में मनाया गया, जिसमें कई वैज्ञानिकों के परिवार और गायत्री परिवार के समर्पित कार्यकर्त्ता शामिल हुए।यह दीपयज्ञ वैश्विक परिदृष्य में व्याप्त भय, चिंता और अनिश्चितताओं के बीच हर किसी को आत्मिक उल्लास प्रदान कर अलौकिक शान्ति का अनुभव कराने वाला था। भक्तिभावपूर्ण प्रज्ञा गीतों ने ईश कृपा की अनुभूतियाँ कराइर्ं। प्रज्वलित दीपों के सान्निध्य में गायत्री मंत्र एवं महामृत्युंजय मंत्र से भाव आहुतियाँ प्रदान करते हुए सभी अपने अंत:करण को प्रकाशित होता अनुभव कर रहे थे। उपस्थित समस्त श्रद्धालुओं को जीवन की श्रेष्ठता के लिए एक लघु गायत्री अनुष्ठान करने की प्रेरणा दी गई। अश्वमेध यज्ञ, मुम्बई में भागीदारी का सौभाग्य प्राप्त करने का आमंत्रण दिया गया। युग साहित्य के वितरण के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।
अश्वमेध यज्ञ का प्रयास 
21 कुंडीय गायत्री यज्ञठाणे, मुम्बई। महाराष्ट्र : इन दिनों मुंबई अश्वमेध यज्ञ के प्रयाज क्रम में गायत्री महायज्ञों की शृंखला चलाई जा रही है। इसी क्रम में गायत्री परिवार ठाणे द्वारा दिनांक 30 दिसंबर से 1 जनवरी तक ठाणे के आनंद नगर में 21 कुंडीय गायत्री यज्ञ का आयोजन किया गया। सेंधवा से आई पं. मेवालाल पाटीदार की टोली ने यज्ञ संचालन करते हुए कहा कि यह मात्र धार्मिक अनुष्ठान नहीं, बल्कि यज्ञीय जीवन शैली का प्रशिक्षण है, जिसे अपनाकर ही दुनिया में शान्ति संतुलन की स्थापना की जा सकती है।ल्कि लोगों के जीवन को ऊँचा उठाने के लिए योग शिविर, चिकित्सा परामर्श, रक्तदान शिविर हुए एवं विभिन्न संस्कार भी संपन्न कराये गए।


Write Your Comments Here:


img

प्रशंसनीय पहल झूठन न छोड़ने की शपथ दिला रहे हैं

कई पार्षद, गणमान्यों ने भी ली शपथजयपुर। राजस्थानगायत्री परिवार जयपुर ने लोगों को झूठन न छोड़ने की प्रेरणा देने और संकल्प दिलाने का अभियान प्रारम्भ किया है। गायत्री शक्तिपीठ ब्रह्मपुरी और गायत्री चेतना केन्द्र मुरलीपुरा ने इसकी शुरूआत मुरलीपुरा के.....

img

कारागार में गायत्री ज्ञान मंदिर की स्थापना

बंदियों को ऊर्जा दे रहा है नियमित साप्ताहिक स्वाध्यायसतना। मध्य प्रदेश : स्थानीय गायत्री परिवार केंद्रीय कारागार सतना में महिला एवं पुरूष बंदियों के बीच रविवासरीय स्वाध्याय का क्रम चल रहा है। 19 फरवरी को स्वाध्याय में 51 महिला बंदी.....

img

महिला एवं बाल विकास विभाग और आँगनबाड़ी केन्द्रों द्वारा कार्यक्रमों का आयोजन

अलवर। राजस्थान सुघड़, स्वस्थ, संस्कारवान संतान की चाह किसे नहीं होती। गायत्री परिवार की अलवर शाखा गर्भवती माताओं की इस चाह को पूरा करने के लिए क्रान्तिकारी अभियान चला रही है। महिला एवं बाल विकास विभाग और आँगनबाड़ी केन्द्रों की संचालिका.....