Published on 2023-03-03
img

देवास। मध्य प्रदेशगायत्री शक्तिपीठ देवास का वार्षिकोत्सव कई रचनात्मक प्रतिस्पर्धाओं तथा देशभक्तिपरक सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ संपन्न हुआ। श्री केशव पटेल ने बताया कि गायन, निबंध, चित्रकला एवं प्रश्नोत्तरी जैसी प्रतियोगिताओं से छात्र-छात्राओं में अपनी संस्कृति के प्रति लगाव एवं देशभक्ति की उमंग जगाने के प्रयास हुए। नाटक और समूह नृत्य ने लोगों के मन जीत लिये। इनके द्वारा दहेज प्रथा, नारी जागरण अभियान, बिकाऊ दूल्हा, बेटी बचाओ, शिक्षा एवं नशामुक्ति जैसे विषयों की ओर समाज का ध्यान आकर्षित किया गया था। कार्यक्रम के अंत में सभी विजेता बच्चों को प्रमाण पत्र व शील्ड देकर सम्मानित किया गया। गायत्री शक्तिपीठ के वार्षिकोत्सव के मुख्य अतिथि बैंक नोट प्रेस के संयुक्त महाप्रबंधक श्री प्रशांत महाजन थे। इंदौर उपजोन प्रभारी जेपी यादव, कोमल मिश्रा, प्रज्ञापीठ संरक्षिका दुर्गा दीदी एवं देव संस्कृति विश्वविद्यालय की परिवीक्षाधीन छात्राएँ गार्गी तिवारी, खुशी कुमारी एवं पूनम चौरसिया भी उपस्थित रहीं। आयोजन की सफलता में लक्ष्मण पटेल, शुभम निहाले, अभिषेक कुशवाह, मंजू पटेल, रामनिवास कुशवाह, चन्द्रिका शर्मा, सालिगराम सकलेचा, रमेश नागर, हिमांशु शर्मा, देवीशंकर तिवारी आदि ने सराहनीय योगदान किया। श्री प्रमोद निहाले ने आभार प्रदर्शन किया।


Write Your Comments Here:


img

समाज को सकारात्मकता एवं सृजनात्मक उत्कृष्टता की ओर प्रेरित करते कार्यक्रम

पीड़ित युवतियों के उत्थान के प्रयासरेस्क्यू फाउण्डेशन में जाकर मनाया जन्मदिवसबोरीवली, मुंबई। महाराष्ट्ररेस्क्यू फाउंडेशन देह व्यापार से छुड़ाई गई युवा लड़कियों के पुनर्वास के लिए काम करने वाली स्वयंसेवी संस्था है, जो पूरे महाराष्ट्र में सक्रिय है। दिया, मुम्बई के.....

img

1126 जोड़ों का सामूहिक विवाह संस्कार

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश श्रम विभाग प्रयाजराज की ओर से दिनांक 13 मार्च को सामूहिक विवाह का विशाल समारोह आयोजित किया गया। माघ मेला, परेड ग्राउण्ड में आयोजित इस संस्कार समारोह में 1126 जोड़ों ने और 18 मुस्लिम जोड़ों ने गृहस्थ.....

img

छत्तीसगढ़ में नारी सशक्तीकरण के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण

‘विजन 2026’ के साथ हो रहे हैं कार्यक्रम छत्तीसगढ़ के प्रान्तीय संगठन द्वारा ‘विजन-2026’ को लेकर 11 मार्च से 25 अप्रैल 2023 तक बहिनों का ऑनलाइन प्रशिक्षण शिविर चलाया जा रहा है। यह प्रशिक्षण परम वंदनीया माताजी की जन्मशताब्दी वर्ष.....