• कई माह से गाँव-गाँव, घर-घर किया जा रहा है जनसंपर्क ः महासम्मेलन में जिला कलेक्टर भी पहुँचे

प्रज्ञापीठ बिछौली से जुड़े कार्यकर्त्ताओं द्वारा अपने क्षेत्र के वनवासी समाज में फैली दहेज की घृणित परंपरा को समाप्त करने के लिए विशिष्ट अभियान चलाया जा रहा है। इसी के अंतर्गत गायत्री प्रज्ञापीठ प्रांगण में वनवासियों का एक महासम्मेलन आयोजित किया गया। कलेक्टर श्री एन.पी. डेहरिया और सामाजिक कार्यकर्त्ता श्री सुधीर जैन सहित कई गणमान्यों ने इसमें हिस्सा लिया। 

कलेक्टर श्री डेहरिया ने गायत्री परिवार के दहेज विरोधी प्रयासों की भरपूर प्रशंसा की। उन्होंने इसे समाज के लिए नासूर बताते हुए गाँववासियों को समझाने का प्रयास किया कि किस प्रकार यह परंपरा उनकी दुर्दशा का कारण बन रही है। उन्होंने ऐसी घृणित परंपराओं को छोड़कर अपना स्वाभिमान जगाने और बच्चों की शिक्षा-दीक्षा पर विशेष ध्यान देने की प्रेरणा दी। 

श्री सुधीर जैन ने दहेज को कानून की दृष्टि से एक दण्डनीय अपराध बताते हुए इस संदर्भ में विस्तृत जानकारी गाँववासियों को दी। 

वरिष्ठ प्रज्ञापुत्र श्री रीछिया भाई ने उपस्थित लोगों को न दहेज लेने और न देने के संकल्प दिलाये। वनवासी समाज के अनेक लोगों ने इस अवसर पर अपने विचार रखते हुए अपने मन में उभरते शुभ संकल्पों का अनावरण किया। 

प्रज्ञापीठ बिछौली द्वारा पिछले कई माह से एक सुनियोजित दहेज विरोधी आन्दोलन चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत वे मोराली, लोढणी, बजड़ा, गाता, साकड़ी, गोदवाणी, बिलझोरी, औझड़ आदि गाँवों के घर-घर गये हैं और जनसंपर्क कर उन्होंने दहेज के विरोध में सहमति बनाने के सफल प्रयास किये हैं। 



Write Your Comments Here:


img

व्यसनों को लेकर युवाओं को किया जागरूक

एटा: युवाओं को व्यसन मुक्ति को प्रेरित करने के लिए शहर में आई युवा क्रांति रथ युवा भारत यात्रा का शहर में जोरदार स्वागत हुआ। यात्रा में आए गायत्री परिवार शांतिकुंज के प्रतिनिधियों ने कहा कि जब देश की युवा.....

img

शराबमुक्त स्वर्णिम मध्य प्रदेश अभियान

प्रदेश स्थापना दिवस पर आयोजित हुए कार्यक्रमों में बुलंद हुए शराबमुक्ति के स्वर
बालाघाट। मध्य प्रदेश

दुर्गा मंदिर, गाँधी चौक, बालाघाट पर मध्य प्रदेश स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में अत्यंत आकर्षक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। गायत्री परिवार के परिजनों द्वारा सायं.....