Published on 2017-12-23

डॉ प्रणव पण्ड्याजी ने गंगोत्री में वैदिक मंत्रों के बीच किया शुभारंभ !
गोमुख से गंगासागर तक तीन सौ से अधिक गंगा प्रज्ञा सेवा मंडल करेंगे जनजागरण !

कुंभनगरी नगरी हरिद्वार स्थित शांतिकुंज अपनी महत्वाकांक्षी योजना निर्मल गंगा जन अभियान चला रहा है। इसके तृतीय चरण के तहत अमृत कलश जन जागरुकता रथ को गंगोत्री  में वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच गायत्री परिवार प्रमुख एवं देवसंस्कृति विवि के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्याजी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 

इस अवसर पर डॉ पण्ड्याजी ने कहा कि गंगा भारत के लिए एक दिव्य अनुदान है। इसकी रक्षा  किसी भी स्थिति में की जानी चाहिए। यह कार्य जन सहयोग, श्रद्धा भरा समन्वित पुरुषार्थ एवं अनवरत परिश्रम से ही संभव होगा। उन्होंने कहा कि गंगा को उसके उद्गम से ही निर्मल बनाने  की जरूरत है। इस यात्रा के दौरान गायत्री परिवार के हजारों कार्यकर्ता घर- घर जाकर गंगा के प्रति लोगों को जागरूक करेंगे। 

निर्मल गंगा जन अभियान से जुड़े श्री केदार प्रसाद दुबे ने बताया कि दो साल पूर्व शुरु हुए इस अभियान के तहत सर्वेक्षण व गंगा संवाद का कार्य पूरा किया जा चुका है। पांच चरणों में पूरा होने वाले इस अभियान का तीसरे चरण के अंतर्गत गंगा के तटवर्तीर् क्षेत्र में अमृत कलश जन जागरूकता रथ यात्रा चलेगी। साथ- साथ सैकड़ों लोग पदयात्रा कर लोगों को गंगा स्वच्छता के लिए जागरूक करेंगे। गंगा तटों को हरि चूनर पहनाने के लिए बृहत् स्तर पर वृक्षारोपण भी किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभियान से जुड़े स्वयंसेवकों की गंगा प्रज्ञा मण्डल नाम से तीन सौ से अधिक टीमें बनी हैं, जो गंगा की पवित्रता एवं शुद्धिकरण के लिए चलाये जा रहे कार्यक्रमों में तन, मन, धन से कार्य करेंगे। एक टीम में दस से पच्चीस व इससे भी अधिक सदस्य तथा स्थानीय नागरिक शामिल होंगे। 

इस यात्रा में शामिल दिव्य रथ में हिमालय के बीच शंकर जी की जटा से निकल रही गंगा का दृश्य हृदय को छूने वाला है और संदेश दे रहा है कि मानो गंगा की दशा को सुधारे बिना मानव कल्याण संभव नहीं है। 




Write Your Comments Here:


img

गायत्री परिवार प्रमुखद्वय से मार्गदर्शन ले गंगा सेवा मंडल प्रशिक्षण टोली रवाना

हरिद्वार १४ नवंबर।अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा संचालित निर्मल गंगा जन अभियान के अंतर्गत संगठित गंगा सेवा मंडलों के प्रशिक्षण हेतु बुधवार को पांच सदस्यीय एक टोली शांतिकुंज से रवाना हुई। ये टोली बिजनौर से लेकर उन्नाव तक के शहरों.....

img

शांतिकुंज ने की गंगा घाटों की सफाई, चार सौ से अधिक स्वयंसेवकों ने बहाया पसीना

हरिद्वार, 28 अक्टूबर।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज के अंतेःवासी कार्यकर्ता भाई-बहिन एवं विभिन्न प्रशिक्षण सत्रों में देश भर से आये चार सौ से अधिक स्वयंसेवकों ने सप्तसरोवर क्षेत्र के गंगा घाटों की सफाई में जमकर पसीना बहाया। इस दौरान साधकों ने मानव.....