img

अखिल विश्व गायत्री परिवार के संस्थापक संरक्षक युग ऋषि पं. श्रीराम शर्मा आचार्य जी की स्मृति में अरवल्ली जिले के मोडासा में नवनिर्मित श्रीराम स्मृति उपवन का लोकार्पण आगामी 2 नवम्बर 2014 को होगा । इस लोकार्पण कार्यक्रम के लिए शांतिकुंज से वरिष्ठ प्रतिनिधि पहुँचेंगे । 

ज्ञातव्य है श्रीराम स्मृति उपवन पर्यावरण, स्वास्थ्य एवं स्वावलम्बन की त्रिवेणी है  अर्थात इस उपवन में पर्यावरण को संरक्षित रखने वाले औषधीय पौधों का रोपण किया जाता है , स्वास्थ्य संवर्धन हेतु एक्यूप्रेशर मार्ग का निर्माण किया जाता है तथा स्वावलम्बन के लिए प्राकृतिक रसाहार केंद्र की स्थापना भी की जाती है । इस प्रकार के उपवन सम्पूर्ण भारत में विभिन्न स्थानों पर निर्मित हो चुके है जिनमे प्रमुख है - भोपाल, सेंधवा, टीकमगढ़ , रतलाम, मन्दसौर आदि । 

मोडासा में निर्मित यह उपवन गुजरात प्रान्त का पहला उपवन है । इस उपवन में नवग्रह वाटिका , त्रिवेणी एवं कई अन्य तरह के औषधीय पौधों का रोपण किया गया है । उपवन में निर्मित दस फुट ऊँची ज्ञान मशाल लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र है । 


Write Your Comments Here:


img

शांतिकुंज में पर्यावरण दिवस पर हुए विविध कार्यक्रम

वृक्षारोपण वायु प्रदूषण से बचने का सर्वमान्य उपाय - श्रद्धेय डॉ. पण्ड्याजीसंस्था की अधिष्ठात्री ने नागकेशर के पौधा का किया पूजनसायंकालीन सभा में भारतीय संस्कृति व पर्यावरण संरक्षण के लिए हुए संकल्पितहरिद्वार 5 जून।अखिल विश्व गायत्री परिवार के मुख्यालय शांतिकुंज.....

img

चट्टानी जमीन पर रोपे ११०० पौधे

कठिन परिस्थितियाँ, पक्का इरादातरुपुत्र महायज्ञ संयोजक गायत्री परिवार के श्री मनोज तिवारी एवं श्री कीर्ति कुमार जैन ने बताया-चट्टानी जमीन पर वृक्षारोपण के लिए आठ दिन पहले से ही गड्ढे खोदे जा रहे थे।सिंचाई के लिए निकट ही ५०० बोरी.....

img

वृक्ष गंगा अभियान के तहत किया 5001पौधों का रोपण , शाजापुर ( मप्र )

कालापीपल मंडी।बचपन के पालने से लेकर अंत्येष्टी की लकड़ी तक वृक्षों से प्राप्त होती है। वृक्ष प्राणी जगत को आधार देते हैं। वे संसार का विष पीकर प्राण वायु प्रदान करते हैं। एक मनुष्य को संपूर्ण जीवन में जितनी ऑक्सीजन.....