युवाओं का जत्था नेपाल राहत कार्य में है सक्रिय

Published on 2015-05-01

शिक्षा के साथ सेवा क्षेत्र में भी आगे हैं देसंविवि परिवार 

हरिद्वार स्थित देवसंस्कृति विश्वविद्यालय परिवार अपनी शैक्षणिक जिम्मेवारियों के अतिरिक्त पीड़ित मानवता की सेवा में सदैव अपने तन, मन धन से जुटता है। यहाँ की युवापीढ़ी की सेवा भाव ही है, जो उसे अन्यों से अलग रखता है। नेपाल में आये विनाशकारी भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्य के लिए देवसंस्कृति विवि परिवार का २५ सदस्यों का एक जत्था संजीव यादव एवं बृजेश कश्यप के नेतृत्व में हरिद्वार से नेपाल पहुंचा। ये युवा शांतिकुंज आपदा प्रबंधन दल द्वारा चलाये जा रहे राहत शिविरों में अपना सहयोग प्रदान कर रहे हैं। 

नेपाल में चल रहे शांतिकुंज आपदा प्रबंधन राहत शिविर से मिली जानकारी के अनुसार शांतिकुंज मीडिया सेल ने बताया कि ये युवा काठमांडूजलबेरि एवं भक्तपुर में गायत्री परिवार द्वारा चलाये  जा रहे राहत शिविरों में अपने सेवा कार्य में दिन- रात जुटे हैं। भोजन वितरण, राहत सामग्री एवं मेडिकल टीम के साथ ये युवा निरंतर अपनी सेवाएँ प्रदान कर रहे हैं। 

एक प्रश्न के जवाब में बृजेश कश्यप ने बताया कि देसंविवि के गुरुकुल परंपरा, ऋषि प्रणीत संस्कारों एवं कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्याजी के सेवा व साधना के विचारों एवं परम पूज्य गुरुदेवपं श्रीराम शर्मा आचार्य जी के व्यक्तित्व एवं कर्तृत्व ने हमें सेवा व साधना के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है। गौरतलब है पिछले वर्ष केदारनाथ त्रासदी के समय में भी देसंविवि परिवार  ने शांतिकुंज आपदा प्रबंधन टीम के साथ मिलकर दुर्गम स्थानों में भी भोजन व अन्य राहत सामग्री पहुंचाने का साहसिक कार्य किया था।




Write Your Comments Here:


img

बिहार बाढ़ पीड़ित सहायतार्थ -विशेष ट्रेन से खाद्य सामग्री का वितरण

दिनाकं १८- ८ को शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री रामयश तिवारी व श्री रमाकांत पंडित ने गायत्री शक्ति पीठ कटिहार के युवाओं को लेकर डी. ऍम, कटिहार से कार्यस्थल के निर्धारण की चर्चा की जिसमे कडवा, आजमनगर, बलरामपुर प्रखंड लेने की बात.....

img

राहत कार्य रेल हादसा खतौली-प्रभावित लोगों की सेवा में जुटा शांतिकुंज -घायलों का उपचार हो रहा है शांतिकुंज चिकित्सालय में

मप्र, त्रिपुरा, गुजरात छग सहित सात राज्यों के १०३ लोग पहुंचे-घायलों का उपचार भी हो रहा है शांतिकुंज चिकित्सालय में
१९ अगस्त की सायं को हुई कलिंग उत्कल एक्सप्रेस के भीषण हादसा के समाचार मिलने के तुरंत बाद गायत्री परिवार.....

img

बिहार बाढ़ पीड़ित सहायतार्थ मनिया कोठी तथा पिपरा के बाढ़ग्रस्त १५०० लोगो के भोजन की व्यवस्था

दिनाकं १७-८-२०१७ से जिला कटिहार  बिहार में  बाढ़ पीड़ितों को अखिल विश्व गायत्री परिवार कटिहार के डहेरिया छेत्र के महिला मंडलों  व प्रज्ञा मंडलों द्वारा शिविर लगाकर मनिया कोठी तथा पिपरा के बाढ़ग्रस्त  लगभग १५०० लोगो के भोजन की व्यवस्था.....