Published on 2015-06-22
img

मलेशिया से छः सदस्यीय दल विश्व योग दिवस मनाने के लिए हरिद्वार के गायत्री तीर्थ आये और इन्होंने गायत्री परिवार के साथ योग एवं प्रज्ञा योग में शामिल होकर सुलभ व्यावहारिक समग्र योग से रुबरु हुए। 

दल गायत्री परिवार प्रमुख डॉ प्रणव पण्ड्याजी एवं शैलदीदी से सोमवार को भेंट किया। उन्होंने दक्षिण पूर्व एशिया में बसे मलेशिया के युवाओं को भारतीय संस्कृति के प्रति मोड़ने के विविध सूत्रों से अवगत हुए। इस अवसर पर डॉ पण्ड्याजी ने कहा कि इन दिनों युवाओं को अच्छे संस्कार के लिए, जीवन को ऊँचा उठाने वाले विचारों की महती आवश्यकता है। ताकि वे समाज के विकास में अपना निःस्वार्थ भाव से योगदान दे सके। शैलदीदी से मिली ममत्व व प्यार की अनुभूति से सभी गदगद् हुए। 

इस दल में युनिवर्सिटी ऑफ मलेशिया के प्रो० डॉ नारायण, प्रख्यात एडव्होकेट एंटनी बोम, फ्लोफिल्स कंपनी के मैनेजर सिम किन हुई, उद्योगपति मेकडिलीन, डिस्टनी, सीता नारायण शामिल हैं और यह दल विश्व योग दिवस के लिए शांतिकुंज पहुंचे थे। योग के बाद मलेशियाई दल ने गायत्री तीर्थ में 1926 से सतत प्रज्वलित अखंड दीप दर्शन एवं नियमित चलने वाले 27 कुण्डीय यज्ञशाला में हवन कर अपने व मलेशियाई लोगों के लिए खुशहाली की कामना की। तो वहीं दल देवसंस्कृति विवि, ब्रह्मवर्चस शोध संस्थान आदि का भ्रमण कर भारतीय संस्कृति की अवधारणा से अवगत हुआ। दल के सभी सदस्य पूरी तरह से भारतीय वेशभूषा रंगे दिखाई दिये, जो उन्होंने अपने साथ मलेशिया से ही लेकर आये थे। 

एक सवाल के जवाब में प्रो० नारायण ने कहा कि गायत्री परिवार ने जिस तरह भारतीय संस्कृति के प्रचार प्रसार के लिए कार्य कर रहा है, उससे सात समंदर पार रहते हुए मलेशियाई युवा विश्व की प्राचीन भारतीय संस्कृति की ओर लौट रहा है। मूलतः तमिलनाडू की रहने वाली और पिछले २४ साल से मलेशिया में बसे श्रीमती सीता नारायण ने कहा कि यह मेरी पहली हरिद्वार यात्रा है पर आने वाले के बाद लगा कि  यहाँ पहले भी आ चुकी हूँ। एडव्होकेट एंटनी बोम ने कहा कि मन की शांति के लिए बहुत अच्छा स्थान है शांतिकुंज। सिम किन हुई ने कहा कि जिस शांति की खोज में वर्षों बिताया, वह यहाँ आकर सहज ही मिल  गया। उल्लेखनीय है कि गायत्री परिवार प्रमुख डॉ प्रणव पण्ड्याजी के पिछले मलेशिया प्रवास के दौरान श्रीमती सीता नारायण मिली थी, तब से स्थानीय लोगों के बीच भारतीय संस्कृति के प्रचार- प्रसार में जुटी हैं। 


Write Your Comments Here:


img

नवयुग दल जमशेदपुर का 30 वां रक्तदान शिविर संपन्न

जमशेदपुर :  नवयुग दल (युवा प्रकोष्ठ) गायत्री परिवार के द्वारा एस. डी. एम. स्कुल फाॅर एक्सीलेंस साकची के सभागार में 30 वां रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया । इस पावन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में परम आ. श्री अभय सिंह जी,.....

img

मूक बधिरों को युवाओं द्वारा दी जा रही है स्वावलम्बन की शक्ति

राजनांदगांव (छत्तीसगढ़) :समाज में जहाँ एक ओर शिक्षित व डिग्री धारकों का एक बड़ा युवा वर्ग रोजगार न मिलने की स्थिति में पतन के रास्ते पर है, ऐसे में मूक बधिर वर्ग के लिये स्वयं के पैरो पर खड़ा होने.....