Published on 2017-08-19

मप्र, त्रिपुरा, गुजरात छग सहित सात राज्यों के १०३ लोग पहुंचे-घायलों का उपचार भी हो रहा है शांतिकुंज चिकित्सालय में

१९ अगस्त की सायं को हुई कलिंग उत्कल एक्सप्रेस के भीषण हादसा के समाचार मिलने के तुरंत बाद गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या एवं संस्था की अधिष्ठात्री शैलदीदी ने शांतिकुंज आपदा प्रबंधन दल को राहत कार्य में जुटने का निर्देश दिया। निर्देश पाकर आपदा प्रबंधन की टीम सायं ७ बजे घटना स्थल के लिए रवाना हो गयी। इसके साथ ही मेरठ व मुजफ्फरनगर के गायत्री परिजनों को भी पीड़ितों की तत्काल सेवा करने का कहा गया। देर रात तक शांतिकुंज आपदा प्रबंधन टीम सेवा सुुश्रुषा में जुटी रही। वहीं शांतिकुंज, जिला प्रशासन एवं रेलवे के सहयोग से देर रात तक मप्र के ६०, उप्र के १४, त्रिपुरा के १०, छत्तीसगढ़ के १०, हरियाणा के ०२, गुजरात के ४ एवं ओडिशा के ०३ प्रभावित लोग गायत्री तीर्थ पहुँचे। व्यवस्थापक श्री गौरीशंकर शर्मा जी की देखरेख में उनकी चिकित्सा, भोजन आवास आदि की पूरी व्यवस्था की गयी। श्री शर्मा के अनुसार ५ घायलों की चिकित्सकीय उपचार शांतिकुंज चिकित्सालय मे की जा रही है।.................


Write Your Comments Here:


img

केरल में राहत कार्य । घर घर जाकर बांटी जा रही है राहत सामग्री

केरल में आई बाढ़ के प्रकोप से सभी भलीभाँति परिचित हैं। मानव सेवा- माधव सेवा को अपनाते हुए पीड़ित मानवता के दु:ख- दर्द में सदैव साथ दिखाई देने वाले गायत्री परिवार केरल के बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में सेवा कार्य तीव्र.....

img

केरल में बाढ़ राहत कार्यों में अविलम्ब जुट गया गायत्री परिवार

केरल में आई बाढ़ के प्रकोप से सभी भलीभाँति परिचित हैं। लगभग हर टेलीविजन चैनल पर दिखाए जा रहे बाढ़ के समाचार प्रत्येक संवेदनशील व्यक्ति को आहत कर रहे हैं। ८ अगस्त को बादल फटने से आरंभ हुई जल प्रलय.....

img

Kerala flood Relief Camp 2018

सभी भाई बहनों को प्रणाम। केरल में बाढ़ से पीड़ितों का सहायता पहुचाने के लिए All world gaytri parivar,Kochi की ओर से सहायता के रूप में निम्न वस्तु को देने का कलेक्टर साहब से वादा किया.....