निर्मल गंगा जन अभियान : द्वितीय चरण का शुभारंभ !

Published on 2017-12-23
img

अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा आव्हान किये गये निर्मल गंगा जन अभियान के द्वितीय चरण का शुभारंभ दि 23 दिसंबर 2013 से हो रहा है। उपरोक्त अभियान जो गंगा की निर्मलता वापिस लाने हेतु गायत्री परिजनों द्वारा आरंभ किया गया है, इसमें कुल चार चरण हैं। प्रथम चरण जो इस वर्ष अप्रैल 13 में आरंभ हुआ था उसमें पूरी नदी के दोनों तटों पर सर्वेक्षण कार्य पूरा किया गया। इसके पश्चात् द्वितीय चरण जो जून से आरंभ होना थाए किंतु उत्तराखण्ड की त्रासदी एवं नदी में बाढ़ के कारण विलंबित हो गया था एवं इसे अब आरंभ किया जा रहा है।इस चरण में कुल 128 कार्यक्रम संपन्न होने हैं, जो पांच अंचलों में दोनों तटों पर नौ टोलियों के द्वारा किये जायेंगे। ये कार्यक्रम गंगा संवाद एवं गंगा की व्यथा कथा के रूप में होंगे जिनमें जन जागरण गंगा प्रज्ञा मंडलों का गठन किया जायेगा, जिसके लिये टोलियों द्वारा तीन दिवसीय कार्यक्रम पूर्व निर्धारित स्थानों पर किये जायेंगे।क्षेत्रों में विदाई से पूर्व इन टोलियों का एक संक्षिप्त प्रशिक्षण कार्यक्रम दि 17-18 दिसंबर को शान्तिकुन्ज में रखा गया है | जिसमें उन्हें प्रज्ञा पुराण आधारित गंगा कथा सहित ओडियो/वीडियो सामग्रीए एवं अन्य विषयों का व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया जायेगा साथ ही आवश्यक साहित्य व सामग्री भी प्रदान की जायेगी। इससे पूर्व समस्त अंचल प्रभारियों की पूर्व तैयारियों की समीक्षा हेतु एक गोष्ठी दि 1 दिसंबर को शान्तिकुन्ज में आयोजित की गई है।

img

विभिन्न संगठनों के साथ मिलकर गायत्री परिवार ने चलाया ‘ताप्ती शुद्धि अभियान’

बुरहानपुर : बुरहानपुर में गायत्री परिवार ने विभिन्न संगठनों के साथ मिलकर ताप्ती अंचल शुद्धि अभियान चलाया । इस अभियान में पतंजलि योग पीठ के साथ विभिन्न सामाजिक संगठनों ने हिस्सा लिया । कार्यक्रम में जिला कलेक्टर श्री दीपक सिंह, नगर.....

img

जल स्त्रोत शुद्धीकरण एवं स्वछता अभियान – गोरेगाँव (जि. गोंदिया,महा.)

गोरेगाँव : अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा चलाए जा रहे 7 सूत्रीय आंदोलन के राष्ट्रीय सम्मेलन (अक्टूबर २०१६ – हरिद्वार) में गायत्री परिवार गोरेगाँव (जि.गोंदिया,महा.) एवं दिया युवा संघटना के साथियों ने भी संकल्प लिया था। इसी के तहत स्वच्छता एवं जल स्त्रोत शुद्धिकरण.....