Published on 2017-01-21
img

पुणे, महाराष्ट्र
गायत्री परिवार पुणे द्वारा २१ जनवरी को पुणे के महात्मा फुले सांस्कृतिक भवन में शिक्षा एवं विद्या पर सेमिनार आयोजित किया गया जिसमें शिक्षा जगत से जुड़ी सभी शिक्षण संस्थाओं के साथ बच्चों के अभिभावकों को भी आमन्त्रित किया गया ताकि वे शिक्षा और विद्या का रहस्य समझकर बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल बनाने में उसका सदुपयोग कर सकें। इस सेमिनार में शिक्षक और अभिभावकों के साथ ५०० से अधिक लोगों ने भागीदारी की।

जीजी इण्टरनेशनल स्कूल के सहयोग से आयोजित इस सेमिनार का शुभारंभ डॉ. चिन्मय पण्ड्या जी के करकमलों द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया। अतिथि सम्मान एवं प्रज्ञागीत के पश्चात वीडियो द्वारा मिशन का परिचय प्रस्तुत किया गया। डॉ. चिन्मय जी ने सेमिनार में वर्तमान समस्याओं के समाधान तथा भविष्य की उज्ज्वल सम्भावनाओं को साकार करने के उपायों बारे में मार्गदर्शन दिया।

इसके बाद प्रश्नोत्तरी का क्रम चला जिसमें डॉ. चिन्मय जी ने सबका मार्गदर्शन किया। साथ ही देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में निर्धारित पाठ्यक्रमों के साथ- साथ चलाये जा रहे विभिन्न रचनात्मक क्रियाकलापों के बारे में भी जानकारी दी।


Write Your Comments Here:


img

आपके द्वार पहुंचा हरिद्वार

16 दिसंबर 2020 :-आपके द्वार पहुंचा हरिद्वार कार्यक्रम के अन्तर्गत दिनांक 16 दिसंबर 2020 को देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति आदरणीय डॉक्टर चिन्मय पंड्या जी जयपुर राजस्थान पहुंचे। जहां उन्होंने परिजनों से भेंट वार्ता की।.....

img

भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा का रजत जयंती वर्ष

नई पीढ़ी को संस्कृतिनिष्ठ-व्यसनमुक्त बनाने हेतु ठोस प्रयास होंसोद्देश्य प्रारंभ और प्रगतिभारतीय संस्कृति को दुनियाँ भर के श्रेष्ठ विचारकों ने अति पुरातन और महान माना है। ऋषियों की दृष्टि हमेशा से विश्व बंधुत्व की रही है। इसी लिए इस संस्कृति.....

img

२०० लिथुआनियाई करते हैं नियमित यज्ञ

११ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ की संभावनाएँ बनीं, शाखा भी स्थापित होगी

लिथुआनिया आयुर्वेद अकादमी द्वारा प्रज्ञायोग, यज्ञ जैसे विषयों पर लिथुआनिया आयुर्वेद अकादमी द्वारा एक बृहद् वार्ता रखी गयी थी। लगभग १५० लोगों ने इसमें भाग लिया। डॉ. चिन्मय जी ने.....