एक नई सोच नदी,कुयें को साफ करने का नया तरीका-फिटकरी के गणपतिजी

Published on 2017-08-30
img

एक नई सोच
नदी,कुयें को साफ करने का नया तरीका-फिटकरी के गणपतिजी

img

जाग्रत विश्वात्मा बदल देगी दुनिया

चेतें, भ्रम- भटकावों से उबरें, सन्मार्ग की ओर कदम बढ़ायें, श्रेय- सौभाग्य पायेंएकता और समता नये युग का, नये विश्व का नया लक्ष्य है। यों इन दिनों सर्वत्र विषमता का बोलबाला है। गरीबों- अमीरों की, शिक्षित- अशिक्षितों की, समर्थ- असमर्थों.....

img

इच्छामृत्यु का अधिकार

विशेष परिस्थितियों में इच्छामृत्यु का अधिकार सम्बद्ध व्यक्ति को देने सम्बन्धी वैचारिक उथल- पुथल लम्बे समय से चल रही थी। दिनांक ९ मार्च २०१८ को कॉमन कॉज़ नामक एक गैर सरकारी संगठन की याचिका के संदर्भ से सर्वोच्च न्यायालय की.....

img

उत्कृष्टता का आधार है- आदर्श

इक्कीसवीं सदी सतयुगी वातावरण का शिलान्यास होने की प्रभात बेला है। इन दिनों नवजीवन के नवनिर्माण का एक ही आधारभूत कारण होगा- लोकमानस का परिष्कार। जन- जन को समझदारी, ईमानदारी, जिम्मेदारी और बहादुरी का पाठ पढ़ना होगा। चिन्तन, चरित्र और.....